HCL technologies के संस्थापक Shiv Nadar Facts in Hindi

Shiv Nadar Facts के अगर आप जानने की इच्छुक हैं तो Aslisatya में उनके जीवन के रोचक तथ्यों पर नजर दौराएं। हमारे देश के गर्व की बात है की HCL technologies भारत की ही नहीं बल्कि पूरे विश्व की सबसे भरोसेमंद कंपनी में से एक हैं। 

IT Company में आठवीं सबसे वैल्युएबल कंपनी का तमगा हासिल कर चुकी HCL technologies के संस्थापक भारत के तीसरे सबसे अमीर व्यक्ति हैं। Shiv Nadar जी के बारे में जानने के लिए इसीलिए भी सभी इच्छुक रहते हैं। 

दोस्तों HCL technologies के संस्थापक (HCL technologies Founder) Shiv Nadar के बारे में जरूर जानें लेकिन सिर्फ इसीलिए नहीं की वे सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक हैं बल्कि इसीलिए क्योंकि वे एक सक्सेसफुल पर्सन हैं। शिव नादर जी के जीवन से क्या सीख मिलती है, यह जानना पाठकों के लिए जरूरी है। 

दोस्तों Shiv Nadar Facts तो हम आपको बताएंगे ही लेकिन पहले उनके जीवनी के बारे में बताएंगे जिससे उनके बारे में कुछ बेसिक जानकारी पाठकों को प्राप्त हो जाए वह जान लेते हैं।

Shiv Nadar Biography

शिव नादर जिन्हें HCL technologies Founder के तौर पर जाना जाता है। इनका जन्म आजाद भारत के दो साल 1 महीना 1 दिन पहले यानी की 14 जुलाई 1945 को moolaipozhi जो की ब्रिटिश इंडिया में मद्रास प्रेसीडेंसी के अंतर्गृत आते हैं।

पढ़ाई में Shiv Nadar जी शुरू से अव्वल नंबर के स्टूडेंट्स में रहें कोयंबटूर में शामिल PSG College of Technology से इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक डिग्री हासिल की थी। साथ ही साथ सपना पाल लिए थे कुछ बड़ा करने का। दुनिया पर छाने का सपना देखना और उसे हकीकत बनाना हर किसी के बस की बात नहीं हैं। 

अपने कदम आगे बढ़ाते हुए Shiv Nadar जी ने पहले तो अपने दोस्तों के साथ मिलकर एक कंपनी को स्टार्ट किया जिसे हालांकि बाद में बेच दिया। इसके बाद नौकरी की। 

लेकिन फिर खुद के ही बिजनेस करने के जुनून ने Shiv Nadar जी को फिर से उसी मुकाम ला दिया जहां से उन्होंने HCL technologies की शुरुआत की थी। 

Shiv Nadar जी ने कैसे की HCL technologies की शुरुआत

हर इंसान को सफल बनने के लिए साथियों की जरूरत कई जगह वह साथी उनकी वाइफ तो कई जगह घर के अन्य सदस्य होते हैं तो कुछ की जिंदगी में सक्सेस तक का रास्ता दोस्तों के साथ तय किए जाते हैं। 

शिव नादर जी के HCL technologies को शुरुआत करने में मदद उनके दोस्तों ने की थी। दरअसल किसी रोज दोपहर के समय लंच टाइम में सभी दोस्त इकट्ठे थे, तो सभी ने मिलकर प्लान बनाया।

यह प्लान था फिर से खुद का कुछ करने का, इनके इस जज्बे को और उस बनाए गए प्लान को आगे जाकर HCL technologies का नाम मिला। 

Shiv Nadar Facts in Hindi

1. शिव नादर जी का कैरियर पुणे में शुरू हुआ जहां वे अपने दोस्तों के साथ वालचंद ग्रुप कूपर इंजीनियरिंग में कार्यरत थे। इसी दौरान अपनें दोस्तों के साथ खुद का बिजनेस खोलने का प्लान बनाया गया। 

2. साल 1967 में अपने दोस्तों के साथ उनके द्वारा खोली गई पहली कंपनी माइक्रोकॉप के नाम से जानी जाती थी। जिसे हालांकि कुछ साल बाद टेलीडिजिटल कैलकुलेटर को बेच दिया।

3. जब HCL technologies को शिव नादर जी और उनके दोस्तों ने स्थापित किया था तब साल था 1976, और बिज़नेस स्टार्ट करने के लिए पूंजी जो निवेश की थी उसका मूल्य था 1,87,000 रुपए।

4. साल 1980 में HCL technologies को Shiv Nadar जी और उनके दोस्तों ने इंटरनेशनल कंपनी बना दी थी जिसका ऑफिस सिंगापुर में खोला गया था। पहले साल 10 लाख रुपए की कमाई की थी। 

5. शिव नादर जी की नेट वर्थ (Shiv Nadar Net Worth) 2022 के मुताबिक 2310 करोड़ रुपए आंकी गई है जो की उन्हें भारत का तीसरा सबसे धनी व्यक्तियों की सूची में शामिल करती हैं। 

भारत के सबसे धनी व्यक्ति में से एक Gautam Adani Facts के बारे में भी जानें। 

6. साल 2008 को शिव नादर जी को अपनी फील्ड में बेहतर योगदान देने के लिए पद्म भूषण से सम्मानित किया गया। 

7. 1996 में नादर जी ने SSN college of engineering की स्थापना चेन्नई में की थी यह कॉलेज उनके पिता जी के नाम पर हैं। 

8. शिव नादर जी ने अपने जीवन काल में अब तक एक अरब डॉलर का डोनेशन किया हुआ है। 

9. अप्रैल 2017 में India Today ने शिव नादर जी को रैंक 16 दिया था उन लिस्ट में जिसमें भारत के 50 सबसे ताकतवर शख्सियत थे।

10. इन्हें 2007 में डॉक्टरेट डिग्री से भी नवाजा जा चुका है। 

निष्कर्ष

दोस्तों इस पोस्ट से हमें Shiv Nadar Facts Hindi में जानने का अवसर मिला है। इस ब्लॉग पोस्ट में सभी जानकारी को रिसर्च करके लिखा गया है। उनका Aslisatya सभी को मालूम हो इसी प्रण का पालन करने के लिए हमने इंटरनेट में से यह जानकारी जुटाई है। उम्मीद है पसंद आएगी। 

धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published.