Gautam Adani Facts | अडानी ग्रुप के चेयरमैन अडानी के बारे में रोचक तथ्य

Gautam Adani Facts के बारे में जानने के लिए हर व्यक्ति इच्छुक रहते हैं क्योंकि हाल ही में यह सिर्फ देश के ही नहीं बल्कि एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति होने की उपाधि हासिल कर चुके हैं हालांकि इस दौड़ में Mukesh Ambani ने फिर से नंबर एक पर आ गए हैं। 

गौतम अडानी और मुकेश अंबानी दोनो भारत के गुजरात राज्य से आते हैं। आज के इस ब्लॉग पोस्ट के जरिए हम आपको Gautam Adani Facts बताएंगे जो उनके जीवन में उनकी साथ घटी। कैसे वे बने अमीर। क्या है उनके जीवन के रोचक तथ्य सभी का जिक्र इस पोस्ट में किया गया है। 

दोस्तों यह मनुष्य की बुरी आदतों में से एक है, हम दूसरों के सक्सेस को तो देखते हैं लेकिन उसके पीछे उनकी मेहनत को नहीं। बल्कि हम उनकी मेहनत को छोटा आंकते हुए उस धन को या तो काला धन कह देते हैं या तो धोखे से कमाया हुआ धन कह देते हैं। 

दोस्तों अब हम जानते हैं की Gautam Adani Facts के बारे में पूरी जानकारी।

Gautam Adani Facts

24 जून 1962 को गुजरात के जैन समाज से तालुकात रखने वाले परिवार में गौतम अडानी का जन्म हुआ। पिता का कपड़े का कारोबार था लेकिन खुद का मन कुछ अलग और बड़ा करने को था। दोस्तों यह कहा भी जाता है पाया भी जाता है की जो व्यक्ति बाकियों से अलग सोच पाता है वही सबसे सफल इंसान भी बन पाता है। 

गौतम अडानी ने इस कहावत को सच साबित किया और आज के समय वे दुनिया के अमीर व्यक्तियों में शुमार होते हैं। लेकिन उनको अपने अमीर बनने के पढ़ाव में काफी ऐसे घटनाओं का सामना करना पड़ा जो ज्यादातर लोग नहीं जानते। यही इनके जीवन के रोचक तथ्यों में तब्दील हो चुके हैं। आइए दोस्तों जानते हैं इनके रोचक तथ्य। 

Gautam Adani थे ड्रॉपआउट

कई सक्सेसफुल लोगों की कहानी का मुख्य अंश हो चुका है। यह है ड्रॉपआउट होने की, केवल मार्क जुकरबर्ग, स्टीव जॉब्स ही ड्रॉपआउट नहीं रहे बल्कि गौतम अडानी जी भी स्कूल ड्रॉपआउट रहे थे। अहमदाबाद के सीएन स्कूल जहां से कॉमर्स में डिग्री प्राप्त करने गए गौतम अडानी का मन बिज़नेस की थ्योरी पार्ट में नहीं था बल्कि बिजनेस के प्रैक्टिकल पार्ट में था। 

मुंबई के हीरा व्यापार में रखा था पहला कदम

विजन तो इनका स्ट्रॉन्ग था ही और प्रैक्टिकल में रुचि इन्हें साल 1978 में मुंबई आने को आकर्षित किया। मुंबई में इन्होंने महेंद्र ब्रदर्स के लिए हीरा का व्यापार समझा। फिर इसके बाद Zaveri Bazaar में अपने खुद का हीरा ब्रोकरेज फर्म की शुरुआत करी।

बड़े भाई ने दिया मैनेज करने के लिए आमंत्रण

साल 1981 में गुजरात के अहमदाबाद शहर में बड़े भाई ने प्लास्टिक की यूनिट खरीदी जिसमें Gautam Adani को मैनेजमेंट करने का ऑफर दिया गया। 

पॉलिमर इंपोर्ट करने की शुरुआत

साल 1985 आते आते गौतम अडानी ने बिज़नेस को बढ़ाने के लिए पॉलिमर इंपोर्ट का व्यापार चालू किया।

अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड साल 1988 

अडानी ग्रुप की होल्डिंग कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड की शुरुआत साल 1988 में हुई थी तब कंपनी को अडानी एक्सपोर्ट्स लिमिटेड के नाम से पहचान मिली थी।

पॉवर प्लांट में उत्पादन हो सकती है 4620 मेगावॉट बिजली

आज के समय देश के प्राइवेट सेक्टर में मौजूद पावर प्लांट के बारे में जाना जाए तो पाएंगे कि देश की सबसे अधिक उत्पादन करने वाली प्राइवेट कंपनी अडानी पावर ही है। इसमें 4620 मेगावॉट बिजली उत्पादित हो सकती है। इसे साल 1996 में स्थापित किया गया था।

साल 2020 में जीती थी सबसे बड़ी सोलर एनर्जी डील

मई 2020 में, अडानी ने भारत की सोलर एनर्जी कॉर्पोरेशन द्वारा 6 बिलियन डॉलर की दुनिया की सबसे बड़ी Solar Energy की बोली जीती।

कर डाली थी 6000 करोड़ रुपए की डील समय मात्र 100 घंटे

udupi thermal power plant को हासिल करने के लिए गौतम अडानी जी ने अपने बिजनेस माइंड का खासा परिचय दिया और मात्र 4 दिन और 4 घंटे यानी की कुल 100 घंटे में ही 6000 करोड़ रुपए की डील कर डाली।

डॉन ने कर लिया था किडनैप

अमीर व्यक्ति अपने कई दुश्मन अनजाने में बना लेते हैं इसी पैसों ने इनके दुश्मनों की लिस्ट में अंडरवर्ल्ड डॉन को भी ला दिया। अंडरवर्ल्ड डॉन फजलू रहमान ने साल 1998 में 1.5 मिलियन डॉलर पाने की चाह में किडनैप कर लिया था। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह थे भारत के सबसे अमीर व्यक्तियों में शुमार कभी पहले पायदान पर आते तो कभी रह जाते दूसरे स्थान गुजरात राज्य से सबंधित और भारत के उद्योगपति गौतम अडानी के बारे में रोचक तथ्य ( Gautam Adani Facts in Hindi), उम्मीद है आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी जरूर अच्छी लगी होगी। ऐसे ही जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट Aslisatya में आते रहें। 

धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published.